Browse By

तीन हजार की ठगी करने वाले को नहीं मिली जमानत

 

2950 करोड़ रुपये की ठगी के आरोपी की जमानत याचिका खारिज

हिसार, 06 दिसंबर (वार्ता) हरियाणा में फतेहाबाद की एक अदालत ने अमीर बनाने का सपना दिखाकर लोगोंं से 2950 करोड़ रुपए की ठगी करने के आरोपी फ्यूचर मेकर लाइफ केयर कंपनी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक राधेश्याम की जमानत याचिका आज खारिज कर दी।

अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजेन्द्र सिंह ढांडा की अदालत में हिसार जिले के सीसवाल गांव निवासी राधेश्याम ने 26 नवंबर को अदालत में याचिका दायर कर जमानत की गुहार लगाई थी। इससे पूर्व आरोपी की एक जमानत याचिका अदालत में उसके वकील ने वापिस ले ली थी।

आरोपी के खिलाफ सदर पुलिस ने इसी साल 8 सितंबर को भारतीय दंड संहिता की धारा 406, 420, 467, 468, 471, 120 बी, 34 व प्राइज चिट एंड मनी सर्कुलेशन स्कीम एक्ट के तहत अपराधिक केस दर्ज किया था।

जमानत याचिका पर जिरह करते हुए आरोपी के वकील लाल बहादुर खोवाल ने अदालत को बताया कि आरोपी के खिलाफ 420 व पीसी एंड सीएस एक्ट नहीं बनता। आरोपी आयकर, बिक्री कर बराबर भर रहा है और कंपनी का काम उत्पाद बेचना था। वहीं सरकारी वकील का कहना था कि आरेापी के खिलाफ गंभीर प्रकृति के आरोप हैं। आरोपी राधेश्याम, कंपनी के प्रबंध निदेशक बंसीलाल और दूसरे प्रमोटरों ने लोगों से 2950 करोड़ रुपये की ठगी की है।

अदालत ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद यह कहते हुए आरोपी को जमानत देने से इंकार कर दिया कि यदि आरोपी को जमानत दी गई तो वह गवाहों को प्रभावित कर सकता है और मुकदमे से गैर हाजिर भी हो सकता है। अपराध गंभीर प्रकृति का है।

सं महेश विक्रम

वार्ता

 

Sharing is caring!

Translate »
shares
WhatsApp us