navjot sidhu
स्टार प्रचारक नवजोत सिद्धू का वाेकल कार्ड फिर खराब. file photo
अमृतसर ट्रेन दुर्घटना मामले में सिद्धू दंपति को क्लीन चिट

चंडीगढ़ ,06 दिसंबर (वार्ता) । इसी वर्ष दशहरा उत्सव के दौरान हुए भीषण रेल हादसे में राज्य मंत्रीपरिषद के सदस्य और उनकी पत्नी को क्लीन चिट दे दी गयी है। जांच रिपोर्ट में छोटे स्तर पर रेलवे कर्मचारियों और आयोजकों पर ही गाज गिरी है। हालांकि इस जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक करने की मांग भी उठने लगी है। कांग्रेस के ही एक बड़े नेता ने भी मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर रिपोर्ट को पब्लिक करने की मांग की है। वहीं विपक्षी अकाली दल ने कुछ सवाल उठाये हैं।

राज्य सरकार ने जांच की जिम्मेदारी जालंधर के डिवीजनल कमिश्नर बी पुरूषार्था को सौंपी थी और उन्होंने जांच पूरी करके सरकार को भेज दी थी । तीन सौ पन्नों की रिपोर्ट गृह सचिव ने कल मुख्यमंत्री को सौंप दी ।

रिपोर्ट में सिद्धू दंपति को बेकसूर बताते हुये कहा गया है कि पहली बात तो श्री सिद्धू घटना के दिन शहर में नहीं थे और श्रीमती सिद्धू रावण दहन समारोह की मुख्य अतिथि थीं ।इंतजामों की जिम्मेदारी चीफ गेस्ट की नहीं होती इसके लिये आयोजक ,निगम की गलती थी ।

रिपोर्ट के अनुसार कार्यक्रम के इंतजामों को लेकर कांग्रेस पार्षद के बेटे एवं आयोजक सौरभ मिट्ठू मदान की गलती बताई गई है ।आयोजकों ने न तो कार्यक्रम के लिये निगम ही नहीं बल्कि संबंधित विभागों की अनुमति ली और न ही रेलवे ट्रैक को लेकर सुरक्षा इंतजाम का ख्याल रखा ।दशहरा कार्यक्रम भी देरी से आयोजित किया गया ।रिपोर्ट में समारोह स्थल पर बदइंतजामी के लिये स्थानीय प्रशासन पर भी उंगली उठायी है ।कार्यक्रम की तैयारियों की ठीक से पड़ताल नहीं की जबकि उन्हें यह मालूम था कि साथ में रेलवे ट्रैक है तथा आसपास कालोनियों के लोग दशहरा कार्यक्रम देखने के लिये ट्रैक पर इकट्ठा हो सकते हैं ।

रिपोर्ट में रेलवे ट्रैक के गेटमैन की गलती भी बताई गई है क्योंकि उसने भीड़ को देखते हुये रेलवे पुलिस को न तो सूचना दी और न ही ट्रेन को धीमी गति रखने का सिगनल दिया ।भविष्य में इस तरह के हादसों से बचने के लिये नये दिशा निर्देश बनाने को भी कहा गया है ।


रिपोर्ट गत 21 नवंबर को गृह सचिव को सौंपी गई थी जिसे कार्रवाई के लिये कल मुख्यमंत्री के पास भेज दिया गया है ।अब देखने वाली बात यह है कि इस पर कार्रवाई कब तक और कैसी होती है ।

ज्ञातव्य है कि इस हादसे में 62 लोग मारे गये थे और 80 से अधिक घायल हुये थे ।

शर्मा विक्रम

वार्ता

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here