बाल हकीकत राय का बलिदान दिवस एवं बसंत पंचमी पर्व श्रद्धापूर्वक मनाया गया
श्रीगंगानगर, 10 फरवरी 2019: आर्य समाज संस्था तथा सामाजिक व धार्मिक संस्थायें महासंघ के संयुक्त तत्वावधान में धर्म के लिए प्राण देने वाले बाल वीर हकीकत राय का बलिदान दिवस एवं सांस्कृतिक पर्व बसन्त पंचमी कार्यक्रम 10 फरवरी, रविवार सांय स्वामी दयानन्द मार्ग स्थित आर्य समाज परिसर में श्रद्धापूर्वक आयोजित किया गया। महासंघ के सचिव मनीराम सेतिया ने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विजयकुमार गोयल, विशिष्ट अतिथि आर्य समाज के प्रधान रवि प्रकाश तथा अध्यक्षता रमेश सिंगल ने की। कार्यक्रम का प्रारम्भ मुख्य वक्ता रामनिवास गुणग्राहक के गायत्री मंत्रोच्चारण से हुआ। उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि बसंत पंचमी पर्व एक उल्लास का पर्व है तथा बसंत ऋतु में प्रकृति का मनोरम परिवर्तन होता है। उन्होंने वीर हकीकत राय के जीवन पर भी प्रकाश डाला। एडवोकेट राजेन्द्र कुमार ने शर्मा ने कहा कि बसंत पंचमी का पर्व आनन्ददायक पर्व है। विजय कुमार गोयल ने कहा कि वीर हकीकत राय का बलिदान दिवस सभी के लिए प्रेरणादायी है। राकेश मितवा ने कहा कि वीर हकीकत राय का बलिदान सदियों तक याद रहेगा। सुरजन सिंह रंगीला ने पंजाबी गीत द्वारा, प्रकाशचन्द शर्मा ने कविता द्वारा बसंत पंचमी की महिमा का गुणगान किया। कार्यक्रम में डॉ. ओ.पी. गोयल, मानसी गोयल, मनीराम सेतिया आदि ने वीर हकीकत राय के महान जीवन पर अपने विचार रखते हुए धर्म के लिए दिए गए बाल्यावस्था में दिए गए बलिदान का अविस्मरणीय बताया। अध्यक्ष रमेश सिंगल ने कहा कि देश पर व धर्म पर बलिदान होने वाले महापुरूषों के जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए। कार्यक्रम में राजेन्द्र कुमार लवली, धर्मेन्द्र भाटिया, बाबूलाल जैन, इन्द्रजीत पप्पू चौधरी, सुरजीत ग्रेवाल, रमेश कुमार गर्ग, राजेश सूद, हरइकबाल सिंह, गीतेश शर्मा, दौलतराम, शुभम शर्मा सहित अनेकों सदस्यों ने उपस्थित वीर हकीकत राय को श्रद्धासुमन अर्पित किए तथा बसंत पंचमी पर्व के संदेश को जीवन में अपनाने का संकल्प लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here