वाशिंगटन, छह फरवरी (भाषा) अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अलग-थलग पड़े उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन के साथ फरवरी के अंत में वियतनाम में दूसरी शिखर वार्ता करेंगे।

यह परमाणु एवं मिसाइल कार्यक्रमों को खत्म करने के लिए कूटनीतिक प्रयासों की एक शुरुआत होगी।

वार्षिक ‘स्टेट ऑफ यूनियन’ संबोधन में ट्रंप ने यह घोषणा की।

किम और ट्रंप ने पिछले साल सिंगापुर में मुलाकात की थी। दोनों देशों के नेताओं के बीच वह पहली शिखर वार्ता थी।

इस शिखर वार्ता के बाद से ही उत्तर कोरिया ने परमाणु हथियारों या बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण जैसी कोई उकसावे भरी कार्रवाई नहीं की है। लेकिन वह अपनी परमाणु आयुधशाला को छोड़ने पर अभी राजी नहीं हुआ है।

कांग्रेस को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा कि कोरियाई प्रायद्वीप में शांति स्थापित करने के लिए उनके प्रशासन के प्रयासों में प्रगति हुई है।

ट्रंप ने 80 मिनट से अधिक चले अपने संबोधन में कहा, ‘‘हम कोरियाई प्रायद्वीप में शांति स्थापित करने के अपने ऐतिहासिक कदम को जारी रखेंगे। हमारे बंधक घर लौट आए हैं, परमाणु परीक्षण भी बंद हो गए हैं और पिछले 15 महीने से अधिक समय से मिसाइल लॉन्च भी नहीं हुआ है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अभी काफी काम किया जाना बाकी है लेकिन किम जोंग-उन के साथ मेरे रिश्ते अच्छे हैं।’’

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘किम और मैं वियतनाम में 27-28 फरवरी को मुलाकात करेंगे।’’

ट्रंप ने हालांकि प्योंगयांग के साथ बढ़े तनाव के खतरों के बारे में भी आगाह किया।

ट्रंप ने कहा, ‘‘अगर मैं अमेरिका का राष्ट्रपति नहीं चुना गया होता, तो मेरे ख्याल से अभी हम उत्तर कोरिया के साथ एक बड़े युद्ध की स्थिति में होते।’’

वियतनाम के किस शहर में शिखर वार्ता होगी अभी यह घोषणा नहीं की गई है। हालांकि इसके राजधानी हनोई या डै नैंग में होने की अधिक संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here