चुनावों के बीच भी निवेशकों का भरोसा, बीएसई 38 हजार पार

नई दिल्ली। भारत में नयी सरकार का चुनाव करने के लिए मतदान आरंभ हो रहा है, लेकिन निवेशकों का भरोसा भारतीय वित्तीय संस्थाओं पर बना हुआ है। यही कारण है कि बम्बई स्टॉक एक्सचेंज में शुक्रवार को भी तेजी का दौर बना रहा। सूचकांक 38 हजार को पार कर गया।
बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दोपहर के कारोबार में करीब 500 अंक तक चढ़ गया था। अंत में यह 269.43 अंक या 0.71 प्रतिशत की बढ़त के साथ 38,024.32 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 83.60 अंक या 0.74 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,426.85 अंक पर बंद हुआ।
सेंसेक्स की कंपनियों में कोटक बैंक का शेयर सबसे अधिक 4.31 प्रतिशत चढ़ गया।
पावरग्रिड, टीसीएस, आईसीआईसीआई बैंक, एसबीआई, एचसीएल टेक, एनटीपीसी, इन्फोसिस, बजाज फाइनेंस, एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक, ओएनजीसी, वेदांता और इंडसइंडस बैंक के शेयर 2.84 प्रतिशत तक चढ़ गए।
वहीं दूसरी ओर हिंदुस्तान यूनिलीवर, यस बैंक, आईटीसी, भारती एयरटेल, रिलायंस इंडस्ट्रीज, सनफार्मा और एक्सिस बैंक के शेयर 2.16 प्रतिशत तक टूट गए।
कोटक सिक्योरिटीज के उपाध्यक्ष (पीसीजी रिसर्च) संजीव जरबादे ने कहा कि पिछले सप्ताह सेंसेक्स करीब 3.5 प्रतिशत चढ़ा। उन्होंने कहा कि चुनाव पूर्व सर्वेक्षण राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की सत्ता में वापसी की बात कह रहे हैं, जिसकी वजह से विदेशी संस्थागत निवेशकों का निवेश बढ़ा है।
इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बृहस्पतिवार को शुद्ध रूप से 1,482.99 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 817.77 करोड़ रुपये की बिकवाली की।
भारतीय संसद के लिए चुनाव की प्रक्रिया आरंभ हो चुकी है। जो संकेत निवेशकों को मिल रहे हैं, उससे उनको लग रहा है कि आगामी पांच साल के लिए भी भारतीय एक मजबूत सरकार का चुनाव कर लेंगे। यही कारण है कि विदेशी निवेशकों ने भी भारतीय बाजार में काफी बड़ा निवेश किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here