Ethiopian Airlines crash plane investigation french invesigation agency. file photo

पेरिस। बोइंग विमान हादसे की जांच में फ्रांस आगे बढ़ा है और उसने सभी तथ्यों की जांच करने का निर्णय लिया है। इस हादसे में डेढ़ सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो गयी थी।
चार भारतीय भी रविवार को दुर्घटनाग्रस्त हुए इथियोपियाई एयरलाइंस के बोइंग विमान में शामिल थे। विश्व के अन्य कई देशों के नागरिक शामिल थे, इस कारण यह मामला वैश्विक बन गया था। फ्रांस ने इस पूरे मामले की जांच करने का निर्णय लिया है। विमान का ब्लैक बॉक्स मिलने के बाद माना जा रहा है कि दुर्घटना के सभी कारण जल्द ही सामने आ जायेंगे।

एयरलाइन ने ट्विटर पर लिखा है, ”फ्रांसीसी सुरक्षा जांच (बीईए) के साथ मिलकर विमान हादसे की जांच के लिए दुर्घटना जांच ब्यूरो के मुख्य जांचकर्ता के नेतृत्व में इथियोपिया का प्रतिनिधिमंडल पेरिस पहुंच गया है और जांच प्रक्रिया शुरू हो गई है।ÓÓ रविवार को अदीस अबाबा से उड़ान भरने के महज छह मिनट बाद ही दुर्घटनाग्रस्त हुये विमान के दो ब्लैक बॉक्स को गुरुवार को पेरिस ले जाया गया था। बीईए के जांचकर्ता कॉकपिट की आवाज और विमान के डेटा रिकॉर्डर्स से जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करेंगे, जो दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हो गए थे।
ध्यान रहे कि इस हादसे के बाद भारत-संयुक्त अरब अमिरात सहित कई अन्य देशों ने बोइंग के मैक्स के उड़ान भरने पर आंशिक रोक लगा दी थी। बोइंग कंपनी को इस हादसे के बाद आर्थिक और उसकी प्रतिष्ठा को गहरा धक्का लगा है। अमेरिकी कंपनी स्वयं भी इस पूरे मामले की जांच कर रही है। पायलट ने उड़ान भरने के कुछ समय बाद ही तकनीकी गड़बड़ी की जानकारी दी थी किंतु जब तक हवाई जहाज वापिस आता, वह दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here