‘ड्रोनÓ उड़ाने पर प्रशासन ने लगायी पाबंदी, रात को पटाखे बजाने पर भी रोक

श्रीगंगानगर। सीमा पर मौजूदा हालात को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने शुक्रवार को आपदा प्रबंधन की बैठक बुलायी और किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए हर समय तैयार रहने के आदेश दिये गये। वहीं प्रशासन ने ‘ड्रोनÓ पर प्रतिबंध लगा दिया है। अगर किसी समारोह की कवरेज के लिए ड्रोन की आवश्यकता हो तो उसके लिए प्रशासन से पहले मंजूरी आवश्यक होगी।
जिला प्रशासन ने शुक्रवार को कलक्टरी सभागार में आपदा प्रबंधन की तैयारियों की समीक्षा की। इस बैठक में जलदाय, जल संसाधन, विद्युत, स्वास्थ्य तथा सिविल डिफेंस के अधिकारी मौजूद थे। पुलिस के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्रसिंह राठौड़ को भी बुलाया गया था। इस बैठक में मौजूदा हालात पर चर्चा की गयी।
जिला कलक्टर ने तत्काल प्रभाव से ड्रोन उड़ाने पर पाबंदी लगा दी। कलक्टर ने कहा कि किसी भी परिस्थिति में अगर ड्रोन के लिए किसी व्यक्ति को आवश्यकता है तो वह पहले प्रशासन से अनुमति लेगा। बिना अनुमति के ड्रोन को हवा में भेजने पर कानूनी कार्यवाही की जायेगी। ध्यान रहे कि इन दिनों विवाह समारोह को भव्य बनाने के लिए स्टूडियो संचालक ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल करते हैं। वे मैरिज पैलेस के ऊपर ही नहीं बल्कि आसपास के एरिया में भी ड्रोन को भेजकर उनके दृश्यों को अपने कैमरों में कैद कर लेते हैं। यह सुरक्षा की दृष्टि से बहुत ही घातक हो सकता है।
हालांकि ड्रोन तकनीक का विस्तार होने के बाद इनकी कीमतों में भी भारी कमी आयी है। पहले जो ड्रोन 5 से 50 लाख में आता था आज पांच किमी तक एरिया में जाने वाला ड्रोन 30 से 40 हजार रुपये में उपलब्ध है और ऑनलाइन कंपनियां हैं, वहां पर ड्रोन और भी सस्ता मिल जाता है। इस तरह से ड्रोन अब आदमी की पहुंच में आ रहा है। यही कारण है कि ड्रोन अब ज्यादा उड़ते हुए नजर आते हैं।
जिला कलक्टर ने कहा कि रेलवे स्टेशन, बस स्टेण्ड, बाजार, भीड़ वाले क्षेत्र, हैड रेगुलेटर, धार्मिक संस्थाओं, बिजली घरों व पेयजल परियोजनाओं व सुरक्षा एजेंसियों के आसपास कोई अवांछित गतिविधि, संदिग्ध व्यक्ति, संदिग्ध वस्तु या कोई हलचल, दिखने पर इसकी सूचना तत्काल दें। महत्वपूर्ण संस्थाओं के आसपास कोई व्यक्ति खोखा, रेहड़ी या छोटी दुकान बनाकर कार्य कर रहा है, उन पर भी नजर रखनी है। वहीं कलक्टर ने आदेशित किया है कि रात को पटाखे अथवा लाउडस्पीकर नहीं बजाया जाना चाहिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here