राजस्थान के श्रीगंगानगर में न्यायालय ने आज

राजस्थान के श्रीगंगानगर में न्यायालय ने आज चैक अनादरण के मामले में एक व्यक्ति को एक वर्ष की साढे तीन लाख का जुर्माने से दंडित किया है।
सूत्रों के अनुसार सेतिया कॉलोनी निवासी राजेंद्र गोयल ने एनआईए एक्ट मामलों की विशेष अदालत में विनोद मिड्डा के खिलाफ परिवाद पेश किया था। विनोद मिड्डा ने राजेंद्र गोयल दो लाख रूपये उधार लेकर 15 फरवरी 2011 को एचडीएफसी बैंक का चेक दिया था। यह चेक उसके अकाउंट में पर्याप्त राशि न होने के कारण बाउंस हो गया था।
न्यायाधीश तरुणकांत तिवारी ने विनोद मिड्डा को दोषी करार देते हुए तीन लाख 60 हजार का जुर्माना लगाया और एक वर्ष की सजा सुनाई है। जुर्मानामाना अदा नहीं करने पर विनोद को 15 दिन की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।
सेठी रामसिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here