शनिवार को पहला नवरात्र मनाया जाएगा
दुर्गा अष्टमी पर कन्याओं का हुआ महापूजन

शनिवार को नवरात्रि उत्सव के समापन पर कन्याओं का महापूजन हुआ। देवी का रूप माने जाने वाली बालिकाओं को हलवा-पुरी का प्रसाद खिलाया गया और उनसे आशीर्वाद भी प्राप्त किया गया। कन्या पूजन के लिए पुत्रियों को घर से सुबह से ही पूरे सम्मान के साथ बुलाया गया।

दुर्गा अष्टमी पर कन्याओं का हुआ महापूजन. file photo

गत शनिवार को दुर्गा नवरात्रि पर्व आरंभ हुआ था। दुर्गा के नौ रूपों का फेस्टिवल आज सम्पन्न हो गया। दुर्गा अष्टमी पर लोगों ने कन्याओं को घर-घर से बुलाकर उनको नमन किया और उनको हलवा-पुरी का प्रसाद खिलाया। उनको गिफ्ट देकर उनको प्रसन्न किया।
गत 8 दिनों से चल रहे उत्सव में अष्टमी और नवमी एक ही दिन आ गयी थी किंतु नवमी का पूजन दोपहर बाद होना था, इस कारण जो भी नवमी के दिन देवी की पूजा करते हैं, वे कल रविवार प्रात: कन्या पूजन करेंगे। हिन्दू धर्म की प्राचीन सभ्यता यही बताती है कि मां दुर्गा कन्या के रूप में विराजमान रहती है। इसी कारण कन्याओं का दुर्गा का रूप मानते हुए उनका पूजन किया जाता रहा है। वहीं यह भी सच है कि हिन्दुस्तान महिलाओं पर अत्याचार के मामले में पूरी दुनिया में प्रथम पांच देशों में शामिल है। इसी कारण दुर्गा पूजन के दिवस हर मनुष्य को यह प्रण लेना चाहिये कि वह कहीं भी महिला हिंसा को देखेगा, तो उसको रोकने का प्रयास करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here